News PR Live
आवाज जनता की

नवरात्रि 2022: चंपानगर में स्थापित हुई कष्टहरणी मातारानी दुर्गा की प्रतिमा, यहां पहली पूजा से ही माता के होते हैं दर्शन

- Sponsored -

- Sponsored -

NEWSPR डेस्क। भागलपुर में चंपानगर स्थित एमटीएन घोष रोड लेन में महाराणा पूजा समिति द्वारा दुर्गा पूजा के उपलक्ष्य पर सोमवार को पहली पूजा को ही कष्टहरणी मातारानी की प्रतिमा स्थापित की गई है। पूजा के आयोजक राजू महाराणा ने बताया कि सन 2001 ई० से ही हमारे यहां मां दुर्गा की पूजा होती है। पहली पूजा को ही माता रानी का प्राणप्रतिष्ठा कर दिया जाता है।

एक पूजा से ही माता के पट को खोलकर हम भक्त माता के दर्शन कर पूजा पाठ करते है। पूरे नाथनगर प्रखंड क्षेत्र के सभी इलाकों से भारी भीड़ यहां देवी दुर्गा के दर्शन को पहुंचती है। पूरे दस दिनों तक यहां भक्ति गीतों व मंत्रोच्चारण से इलाका गुंजायमान रहता है। कष्टहरणी मातारानी की विशेषता को बताते हुए महाराणा परिवार के सदस्य प्रतीक महाराणा ने बताया कि जबसे इस इलाके में कष्टहरणी माता रानी की पूजा की शुरुआत हुई है तबसे लेकर आजतक माता रानी की कृपा से कोई कष्ट दुख समाज मे नही है। मौके पर नरेश महाराणा, शंकर महाराणा, संचय महाराणा, राखी राज, पायल आदि उपस्थित थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

कलश स्थापना के साथ विभिन्न मंदिरों में दुर्गा पाठ हुआ प्रारंभ

दुर्गा पूजा के शुरू होते ही भागलपुर का भागलपुर के आसपास के सभी मंदिरों में कलश स्थापना कर पूजा अर्चना प्रारंभ कर दी गई है जिसमें नाथनगर के मनसकामनाथ मंदिर, मोहनपुर दुर्गा स्थान, नूरपुर दुर्गा स्थान, महासय ड्योढ़ी, सुजापुर दुर्गा स्थान, मडुआनाथ स्थित दुर्गा स्थान सहित आदि मंदिरों में पहली पूजा की शुरुआत कलश स्थापना के साथ की गई। बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिरों में देवी दुर्गा की पूजा अर्चना करते दिखे।

रिपोर्ट श्यामानंद सिंह भागलपुर

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.