News PR Live
आवाज जनता की

बिक गई दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया,जानिए किसने जमाया “ट्विटर” पर कब्जा, खरीदने के लिए चुकाई इतनी बड़ी कीमत

- Sponsored -

- Sponsored -

NEWS PR डेस्क। पिछले कुछ दिनों से ट्विटर के बिकने की चर्चा चल रही थी। अब आखिरकार ट्विटर कंपनी बिक गया है। दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने माइक्रोब्लॉगिंग साइड ट्विटर को खरीद लिया है। ट्विटर इंक और एलन मस्क की कंपनी टेस्ला के बीच ट्विटर को 44 बिलियन डॉलर (लगभग 3368 अरब रुपये) में खरीदने का ऐलान किया है. एलन मस्क की कंपनी ने 54.20 डॉलर प्रति शेयर के हिसाब से ट्विटर इंक के शेयर खरीदे हैं।

मस्क ने अनौपचारिक ऐलान से पहले ट्विटर पर लिखा- मुझे उम्मीद है कि मेरे सबसे बुरे आलोचक भी ट्विटर पर बने रहेंगे क्योंकि बोलने की आजादी का यही मतलब होता है। हालांकि एलन मस्क का ये बयान उनके व्यवहार से बिलकुल विपरीत है क्योंकि एलन मस्क अपने विरोधियों को धमकाने के लिए जाने जाते हैं।

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते ही एलन मस्क ने कहा था कि उन्होंने 43.46 अरब डॉलर में ट्विटर को खरीदने का ऑफर दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि ये उनकी तरफ से लॉस्ट और एकदम फाइनल ऑफर है। पिछले कुछ समय से एलन मस्क ट्विटर को खरीदने के लिए काफी उत्सुक थे। मस्क ने शेयर बाजार को बताया था, ‘मैंने ट्विटर में निवेश किया, क्योंकि मैं दुनियाभर में मुक्त अभिव्यक्ति का एक बड़ा मंच बनने की इसकी क्षमता में विश्वास करता हूं और मेरा मानना है कि मुक्त अभिव्यक्ति कार्यशील लोकतंत्र के लिए एक सामाजिक अनिवार्यता है।’

- Sponsored -

- Sponsored -

ट्विटर को खरीदना एलन मस्क के लिए आसान नहीं था। क्योंकि ट्विटर के शेयर होल्डर्स इसके लिए तैयार नहीं थे। ट्विटर के बोर्ड और डॉयरेक्टर्स नहीं चाहते थे कि ट्विटर की पूरी कमान मस्क के हाथों में आ जाए। इसके पहले एलन मस्क के पास ट्विटर के 9.2 प्रतिशत शेयर थे। लेकिन मस्क ने इसका रास्ता निकाला और अपने खिलाफ विरोध को सुलझाने के लिए मस्क ने कंपनी के शेयर होल्डर्स के साथ वन टू वन मीटिंग की जिसके बाद ट्विटर बोर्ड मस्क को फुल कंट्रोल देने के लिए तैयार हो गया।

ट्विटर के बोर्ड ने एक साथ मिल कर एलॉन मस्क के ऑफर को ऐक्सेप्ट किया और ये डील इसी साल पूरी कर ली जाएगी। डील पूरी होने के बाद Twitter एक प्राइवेट कंपनी हो जाएगी और इसके मालिक एलॉन मस्क होंगे। दरअसल, पिछले कुछ दिनों से लगातार एलॉन मस्क के ऑफ़र पर ट्विटर के बोर्ड के अंदर बातचीत जारी थी। दरअसल एलॉन मस्क का मानना है कि फ़्री स्पीच के लिए ट्विटर को प्राइवेट करना होगा और इसी वजह से उन्होंने ट्विटर को ख़रीदने का फ़ैसला किया है। दिलचस्प ये है कि एलन मस्क कुछ ही समय पहले ट्विटर की 9% हिस्सेदारी ख़रीदी थी, लेकिन अब उनके पास Twitter Inc का 100% स्टेक होगा। आपको बता दें कि उन्होंने ट्विटर 54.20 डॉलर्स (लगभग 4148 रुपये) प्रति शेयर की दर से कंपनी ख़रीदी है। ट्विटर डील फाइनल होने के बाद एलॉन मस्क ने कहा है कि डेमॉक्रेसी के फंक्शनिंग के लिए फ्री स्पीच जरूरी है, वो चाहते हैं कि ट्विटर प्रोडक्ट एनहैंसमेंट और नए फीचर्स के साथ अब तक का सबसे बेस्ट स्पेस बनाया जाएगा।

मस्क ने कहा है कि ट्विटर का एल्गोरिद्म ओपन सोर्स किया जाएगा ताकि लोगों को भरोसा जीता जा सके। एलॉन मस्क के मुताबिक अब ट्विटर पर सभी ह्यूमन को ऑथेन्टिकेट किया जाएगा और बॉट्स का पूरी तरह से खात्मा किया जाएगा। एलॉन मस्क का मानना है कि ट्विटर पर बॉट्स इस प्लैटफॉर्म की बड़ी समस्याओं में से एक हैं। जैक डोर्सी ने कंपनी से एग्जिट के समय पराग अग्रवाल को सीईओ बना दिया था। पराग अग्रवाल बोर्ड में भी शामिल हैं। जैक डोर्सी ने ट्विटर के बोर्ड से भी एग्जिट ले लिया था। उनकी जगह भारतीय मूल के पराग को कंपनी की बागडोर सौंपी गई थी। ट्विटर पर कई लोग ये मांग कर रहे हैं कि कंपनी के को-फाउंडर जैक डोर्सी को दुबारा से कंपनी के सीईओ बना दिया जाए।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.