News PR Live
आवाज जनता की

नए साल में सज धज कर तैयार है वाल्मीकी टाईगर रिजर्व

- Sponsored -

- Sponsored -

NEWSPR डेस्क। बिहार के इकलौते वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में इन दिनों नए साल के आगमन को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में हैं। नए साल पर वीटीआर में पर्यटकों के लिए ख़ास तौर पर इंतजाम किए गए हैं। वन विभाग के गेस्ट हाउस की साफ सफाई कर उसका रंग रोगन किया गया है। नए वर्ष के आगमन पर वाल्मीकी टाइगर रिजर्व पर्यटकों के लिए एक बेहतर स्पॉट साबित होता है लिहाजा कुछ पाबंदियों के साथ वन विभाग ने पर्यटकों के लिए क्या कुछ खास तैयारियां की हैं। इंडो नेपाल बोर्डेर पर स्थित वाल्मीकिनगर जंगल कैम्प में बाघ की मूर्ति स्थापित कर सेल्फ़ी प्वाइंट बनाया गया है.

जिसका आग इनॉगरेशन भी किया जाना है। दरअसल नया साल दस्तक देने वाला है इस बीच पर्यटक भी पिकनिक मनाने और नव वर्ष में एंजॉय करने को लेकर तैयारियों में जुटे हैं। इसी क्रम में बिहार का कश्मीर कहे जाने वाले वाल्मीकीनगर में भी वाल्मीकी टाइगर रिजर्व सैलानियों के लिए एक बार फ़िर पूरी तरह सज धज कर तैयार है। बताया जा रहा है की प्रतिवर्ष नए साल पर लाखों की संख्या में देश विदेश से पर्यटक वाल्मीकी टाइगर रिजर्व के खूबसूरत वादियों में पिकनिक का एंजॉय करने पहुंचते हैं। खासकर बिहार,यूपी और नेपाल के पर्यटकों के लिए यह बेहतर और पसंदीदा डेस्टिनेशन साबित होता है।

लिहाजा वन विभाग ने इस वर्ष नए साल पर तैयारियां पूरी कर ली हैं। जंगल सफ़ारी, मोटर बोटिंग औऱ इको पार्क में घूमकर लोग आनन्दित हो रहे हैं। हालांकि इस बीच जंगल के भीतर पिकनिक मनाने पर पाबंदी रहेगी। यानी पर्यटक जंगल के भीतर आग नहीं जला सकेंगे और ना ही लाउडस्पीकर या गाना बजा सकेंगे। वन अधिनियम के तहत जानवरों और जंगल को क्षति न पहुंचे और वन्य जीवों को परेशानी न हो इसका पर्यटकों को ख्याल रखना पड़ेगा। वाल्मीकी टाइगर रिजर्व अंतर्गत वाल्मीकीनगर वन परिक्षेत्र के रेंजर अवधेश कुमार ने बताया की वीटीआर के गेस्ट हाउसों की साफ सफाई के साथ रंग रोगन किया गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

साथ हीं नए साल के आगमन पूर्व बाघ का एक स्कल्पचर लगाया है जिसको पर्यटकों के लिए आज सार्वजनिक किया जाएगा। इसके अलावा पर्यटक जंगल सफारी, लक्ष्मण झूला, कैनोपी वॉक झूला समेत बोटिंग का आनंद उठा सकेंगे। कोविड काल के 2 साल बाद इस वर्ष नए साल पर सैलानियों की भारी भीड़ जुटने की उम्मीद जताई जा रही है। इसका सबूत भी अभी से दिखने लगा है। जब सैलानी सपरिवार यहां पहुँचने लगे हैं और ख़ुद पर्यटक अन्य लोगो से VTR आने की अपील कर रहे हैं।

बता दें कि वाल्मीकी टाइगर रिजर्व के जीतने भी गेस्ट हाउस हैं उनकी बुकिंग नए साल के 2 जनवरी तक पूरी तरह फूल है। वाल्मीकि बिहार होटल के 26 कमरे भी फूल हैं वहीं निजी होटल्स में भी इन सभी तारीखों पर कमरे खाली नहीं हैं। बावजूद इसके आधुनिक सुविधाओं से लबरेज़ VTR में पड़ाव व ठहराव के लिए कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर सतर्कता बरती जा रही है।

विंटर वेकेशन के साथ साथ न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए वाल्मीकिनगर बेहतर डेस्टिनेशन बन गया है यहीं वज़ह है कि सपरिवार लोग देश विदेश के अलग अलग हिस्सों से यहां पिकनिक मनाने पहुँच रहे हैं. लिहाज़ा आप भी एक बार VTR जरूर आइये औऱ मुस्कुराइए व एंजॉय कीजिये कि आप वाल्मीकि टाइगर रिजर्व जंगल में प्रकृति के बीच हैं। नए साल के पहले VTR में एडवेंचर व टूरिज्म की तैयारियां…

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.