News PR Live
आवाज जनता की

प्रॉपर्टी के लिए लोग क्या नहीं करते और यहां देखिए 37 साल की जयंती ने पापा की 7 हजार करोड़ की बिसलरी छोड़ दी

- Sponsored -

- Sponsored -

NEWSPR डेस्क। देश की सबसे बड़ी पैकेज्ड वॉटर कंपनी बिसलेरी अपना कारोबार बेचने जा रही है। बिसलेरी अपना कारोबार टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड के हाथों बेचने की तैयारी कर रही है। 70000 करोड़ रुपए में ये डील होगी। बिसलेरी इंटरनेशनल के मालिक रमेश जे चौहान ने अपने इंटरव्यू के दौरान कहा कि उत्तराधिकारी के अभाव में वो अपनी कंपनी को बेचने जा रहे हैं।

बिसलेरी को बेचने के अपने फैसले से रमेश चौहान बेहद भावुक हैं। उन्होंने कहा कि उनके पास इस कंपनी को उस तरह से संभालने वाला कोई नहीं हैं, जिस तरह से उन्होंने अब तक संभाला है। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी जयंती चौहान इस कारोबार में कुछ खास दिलचस्पी नहीं रखती हैं, जिसके कारण उन्हें अपना कारोबार बेचना पड़ रहा है।

आइए हम आपको उनकी बेटी जयंती चौहान के बारे में बताते हैं…..

- Sponsored -

- Sponsored -

बिसलेरी के मालिक रमेश चौहान की इकलौती बेटी जयंती चौहान 37 साल की हैं। जयंती चौहान के लिंक्डइन प्रोफाइल पर मौजूद जानकारी के मुताबिक वो बिसलेरी इंटरनेशनल की वाइस चेयरपर्सन हैं। 24 साल की उम्र में ही उन्होंने पिता के इस कारोबार में अपनी जिम्मेदारियां संभाल ली थीं। उन्होंने बिसलेरी के दिल्ली ऑफिस और फिर बाद में साल 2011 में मुंबई ऑफिस की कमान संभाली। उनके नेतृत्व में ही कंपनी के दिल्ली ऑफिस की शुरुआत की गई। उन्होंने बिसलेरी को अंतरराष्ट्रीय ब्रांड बनाने में अहम भूमिका निभाई है। कंपनी के एड और मार्केटिंग की कमान जयंती संभालती हैं। कंपनी में ऑटोमेशन प्रोसेस की शुरुआत जयंती ने अपने नेतृत्व में करवाई है।

जयंती बिसलेरी ब्रांड को चमकाने में अहम रोल निभा रही है। कंपनी के एड कैपेंन के अलावा प्रोडक्ट के डेवलपमेंट पर उनका फोकस रहता है। बिसलेरी के अलावा जयंती बिसलेरी मिनिरल वाटर, वेदिका नेचुअरल मिनिरल वाटर, फिजी फ्रूट ड्रिंक और बिसलेरी हैंड प्यूरीफायर प्रोडक्ट्स के ऑपरेशन की जिम्मेदारी संभाल रही हैं। वो मार्केटिंग के अलावा ब्रांड मैनेजमेंट के साथ डिजिटल मार्केटिंग में खासी रुचि रखती हैं। कंपनी के विज्ञापण और कम्यूनिकेशन में वो सक्रिय रुप से शामिल हैं।

37 साल की जयंती का बचपन दिल्ली और मुंबई के अलावा न्यूयार्क में बीता है। उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई दिल्ली से की है, जिसके बाद वो फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए लंदन चली गईं। उन्होंने लंदन कॉलेज ऑफ़ फ़ैशन से फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है। इसके अलावा से फैशल स्टाइलिंग का कोर्स किया है। उन्होंने लंदन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओरिएंटल एंड अफ्रीकन स्टडी से अरबी की डिग्री हासिल की है। जयंती वर्तमान में लंदन में रहती हैं। बिसलेरी की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक देशभर में कंपनी के 122 ऑपरेशनल प्लांट हैं। 4500 से अधिक डिस्ट्रीब्यूटर्स का नेटवर्क फैला है।

बिसलेरी कंपनी को बेचने की खबर जैसे ही सामने आई मीडिया में इस खबर को लेकर बाढ आ गई। लोग जयंती के बारे में सर्च करने लगे। उन्होंने क्यों इस कंपनी की जिम्मेदारी लेने से इंकार किया इस बारे में स्पष्ट तौर पर तो कुछ नहीं कहा गया है, लेकिन माना जा रहा है कि वो फैशन से जुड़े कारोबार पर फोकस करेंगी। वहीं अपने लिंक्डइन प्रोफाइल पर जयंती ने बस इतना लिखा कि हर कहानी के दो पहलू होते हैं। उनके इस पोस्ट पर लोग रिएक्शन दे रहे हैं। लोग उनके कामों की तारीफ कर रहे हैं। फिलहाल ये वजह सामने नहीं आई है कि जयंती क्यों बिसलेरी की कमान नहीं संभालना चाहती हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.